गुजरात का प्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय पतंग महोत्सव 2023 अहमदाबाद और पूरे गुजरात के शहरों में 8 से 14 जनवरी तक आयोजित किया जाएगा

ଦେଶ / ବିଦେଶ
Typography
  • Smaller Small Medium Big Bigger
  • Default Helvetica Segoe Georgia Times

 

 

गांधीनगर: कोविड-19 महामारी के कारण 2 साल के अंतराल के बाद अंतरराष्ट्रीय पतंग महोत्सव अहमदाबाद और पूरे गुजरात के अन्य शहरों में भव्य तरीके से शुरू हो रहा है। G20 की थीम के साथ अंतरराष्ट्रीय पतंग महोत्सव 8 से 14 जनवरी, 2023 तक गुजरात पर्यटन निगम द्वारा अहमदाबाद में आयोजित किया जाएगा। अहमदाबाद में आयोजित अंतरराष्ट्रीय पतंग महोत्सव में पतंग उड़ाने वाले प्रेमियों और G20 देशों के साथ-साथ दुनिया भर के अन्य प्रतिभागी हिस्सा लेंगे। 8 जनवरी को सुबह 8 बजे अहमदाबाद में साबरमती रिवरफ्रंट पर गुजरात के राज्यपाल श्री आचार्य देवव्रत द्वारा अंतरराष्ट्रीय पतंग महोत्सव का उद्घाटन किया जाएगा। इस अवसर पर गुजरात के माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र पटेल और पर्यटन मंत्री श्री मुलुभाई बेरा भी उपस्थित रहेंगे।

 

उत्तरी गोलार्ध में सूर्य की वापसी का स्वागत करने के लिए सूर्यनमस्कार के एक बड़े प्रदर्शन के साथ कार्यक्रम के पहले दिन एक प्रार्थना प्रदर्शन, 'आदित्य वंदना' किया जाना निर्धारित है। इस साल पतंग के शौकीन विभिन्न देशों के पतंग प्रेमियों की एक ही समय में पतंग उड़ाने की अधिकतम संख्या का गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय पतंग महोत्सव के दौरान सभी प्रतिभागी G20 लोगो के साथ मुद्रित टी-शर्ट और टोपी पहनकर परेड का प्रदर्शन करेंगे।

 

 

इस वर्ष, गुजरात के आसमान को भारत के G20 प्रेसीडेंसी लोगो के आकार में विशेष पतंगों से सजाया जाएगा। इसके अलावा, अंतरराष्ट्रीय पतंग महोत्सव में आने वाले लोग "वन अर्थ, वन फैमिली, वन फ्यूचर" की थीम के साथ G20 लोगो वाले एक विशेष G20 फोटो बूथ पर तस्वीरें और सेल्फी लेने में भी सक्षम होंगे।

 

अंतरराष्ट्रीय पतंग महोत्सव में दुनिया भर से पतंगों के इतिहास और पतंग उड़ाने की परंपराओं को प्रदर्शित करने वाला एक पविलियन होगा। पतंग बनाने और उड़ाने की कार्यशाला भी आयोजित की जाएगी। अंतरराष्ट्रीय पतंग महोत्सव के दौरान उपस्थित लोग शाम को कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भी देखेंगे। भारत ने दिसंबर 2022 में G20 की अध्यक्षता ग्रहण की और G20 को एक सहभागी कार्यक्रम बनाने के माननीय प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण के अनुरूप भारत के लोगों के लिए G20 का अर्थ क्या है, इसकी समझ बढ़ाने के लिए कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। द ग्रुप ऑफ़ ट्वेंटी (G20) अंतरराष्ट्रीय आर्थिक सहयोग का प्रमुख मंच है। यह सभी प्रमुख अंतरराष्ट्रीय आर्थिक मुद्दों पर वैश्विक वास्तुकला और शासन को आकार देने और मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

भारत 1 दिसंबर 2022 से 30 नवंबर 2023 तक G20 की अध्यक्षता करने जा रहा है। अध्यक्षता के दौरान पूरे भारत में 200 से अधिक बैठकें और कार्यक्रम आयोजित किए जाने हैं और गुजरात के पास आने वाले महीनों में ऐसी 15 बैठकों की मेजबानी करने का अवसर होगा।

 

 

                                                                    

 

 

 

 

powered by social2s